ALERT:भारत का भू जल स्तर 65 प्रतिशत तक गिरा

<script async custom-element=”amp-auto-ads”
src=”https://cdn.ampproject.org/v0/amp-auto-ads-0.1.js”>
</script>

भारत का भू जल स्तर 65 प्रतिशत तक गिरा

ये है न्यूज़ ऑफ़ माय इंडिया !!
                              
NOMI नई दिल्ली, इन दिनों देश में गर्मी बढ़ती जा रही है। कई लोगो को पहली बार ऐसा अनुभव हुआ होगा जब अप्रेल में ही गर्मी ने मई जून की याद दिला दी है। गर्मी बढ़ने के पीछे ग्लोबल वार्मिंग का खतरा तो पहले से ही बताया जा रहा था, लेकिन अब यूनेस्को की रिपोर्ट ने भी नया खुलासा किया है।

जमीन से पानी खींचने में भारत दुनिया में पहले नंबर पर
मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार दिन-ब-दिन गर्मी भारत में बढ़ती ही जाएगी। मानवीय कारकों के चलते शुद्ध पेय जल वैसे भी हमारी पहुंच से दूर होता जा रहा है। यूनेस्को की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में बीते दशक के दौरान भू जल स्तर में 65 प्रतिशत गिरावट आई है। जमीन से खींचे गए पानी के इस्तेमाल के मामले में भारत दुनिया में पहले नंबर पर आता है। यहां पेय जल की 80 प्रतिशत जरूरत इसी से, यानी भू जल से ही पूरी होती है। ऐसे में अगर 2001 से 2010 के बीच यूपी, तेलंगाना, बिहार, उत्तराखंड और महाराष्ट्र में क्रमशः 89, 88, 78, 75 और 74 प्रतिशत कुओं का जलस्तर नीचे गया है तो इसे गंभीर खतरे की घंटी माना जाना चाहिए। इस मामले में रेखांकित करने वाली बात अगर कुछ है तो यह कि देश के सभी हिस्सों में भूजल का स्तर नीचे ही नहीं जा रहा, बल्कि ख़त्म होने की स्थिति में पहुंच सकता है।

<script async src="//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js"></script> <script>      (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({           google_ad_client: "ca-pub-9844829140563964",           enable_page_level_ads: true      }); </script>

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*