कर्नाटक में प्लान-B पर आई कांग्रेस, JDS को बाहर से समर्थन का ऐलान

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बदलते रुझानों के बीच कांग्रेस अभी हिम्मत नहीं हारी है. कांग्रेस इस समय रुझानों में बीजेपी के बाद दूसरे नंबर की बड़ी पार्टी बनती दिख रही है. बीजेपी बहुमत से थोड़ा पीछे रहती दिख रही है और कांग्रेस कर्नाटक में कम से कम एक बार सरकार बनाने की कोशिश करना चाहती है.

कर्नाटक में मौजूद कांग्रेस के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों देवगौड़ा से कहा है कि उनकी देवगौड़ा और उनके बेटे कुमारस्वामी दोनों के साथ फोन पर बात हुई है. उन्होंने बताया कि जेडीएस ने इस प्रस्ताव को स्वीकार किया है. आजाद ने कहा कि जेडीएस सरकार चलाएगी. उन्होंने आगे कहा कि शाम को गवर्नर से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्यपाल से कहा जाएगा कि हमारे पास बीजेपी से ज्यादा सीटें हैं.

इससे पहले, मंगलवार दोपहर को सोनिया गांधी ने कर्नाटक में मौजूद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद को फोन करके कहा कि वह जेडीएस प्रमुख एचडी देवगौड़ा से बात करें. कांग्रेस और जेडीएस मिलकर सरकार बनाने की सूरत में हैं, लेकिन बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आती है तो सरकार बनाने और बहुमत साबित करने का पहला न्योता उसे ही मिल सकता है.

जानकारी के मुताबिक यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी ने गुलाम नबी आजाद से कहा है कि वह तुरंत सिद्धारमैया से बात करें. कांग्रेस की ओर से देवगौड़ा के बेटे कुमारस्वामी को सीएम बनाने का प्रस्ताव दिया जा सकता है. हालांकि, कांग्रेस और जेडीएस के बीच में बातचीत देवगौड़ा के बेटे कुमारस्वामी की वजह से फेल हो सकती है. हालांकि, जेडीएस की ओर से अभी बीजेपी को ग्रीन सिग्नल नहीं मिला है.

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*