पहले सिलाई करके घर चलाती थीं राधे माँ, आज हैं करोड़ों की मालकिन !

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

पहले सिलाई करके घर चलाती थीं राधे माँ, आज हैं करोड़ों की मालकिन !

ये है न्यूज़ ऑफ़ माय इंडिया !!

मुंबई, तथाकथित संत और देवी कही जाने वाली राधे माँ जीवन के शुरूआती दिनों में संघर्ष को मजबूर थीं और घर चलाने के लिए सिलाई का काम किया करती थीं। लेकिन, आज वो करोड़ों की सम्पत्ति की मालकिन हैं और महंगी कारों की शौकीन भी हैं। दरअसल, कभी पैसे-पैसे को मोहताज थीं राधे माँ और अपनी गरीबी को दूर करने के लिए कड़ी मेहनत कर गुजारा करती थीं। वैसे आपको बता दें राधे माँ का असली नाम सुखविंदर कौर है और उनके 6 बच्चे भी हैं, बड़ा परिवार होने से घर चलाने की जिम्मेदारी भी राधे माँ उर्फ़ सुखविंदर के ऊपर थी लिहाजा, वो लोगों सिलकर कुछ पैसों से गुजारा करती थीं। इसी के चलते उनके पति मोहन सिंह को नौकरी के लिए विदेश जाना पड़ा, वो क़तर चले गए और इधर राधे माँ उर्फ़ सुखविंदर की ज़िंदगी ही पलट गयी।

ऐसे बनीं राधे माँ ?
हुआ कुछ यूँ कि पति के विदेश जाते ही सुखविंदर महंत रामदीन दास से जुड़ गईं और उनके साथ रहकर अध्यात्म की ओर कदम बढ़ाने लगीं। यहीं से सुखविंदर धीरे-धीरे राधे माँ के रूप में पहचान बनाती चली गई। महंत से आध्यात्मिक दीक्षा लेने के बाद राधे माँ ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा, बड़े-बड़े उद्योगपतियों से जुड़ना और उनके बुलावे पर कार्यक्रमों में जाना सुखविंदर को राधे माँ के रूप में विख्यात करता गया।

ज़िंदगी में जब आया नया मोड़
सुखविंदर कौर उर्फ़ राधे माँ ने जीवन के शुरूआती दिनों में शादी के बाद सिलाई का काम कर अपने परिवार का पालन पोषण भी किया है। महज 17 साल की उम्र में शादी होने के बाद गृहस्थी के कामों में सुखविंदर का ज्यादातर था। मगर, जब उनके पति विदेश गए तो उन्होंने अध्यात्म को अपना लिया और फिर बन गई हाई-प्रोफाइल संत और तथाकथित देवी। आज वो 52 साल की हैं और बिना लाल रंग के कपड़ों के वो किसी के यहाँ नहीं जातीं, उनके भक्तों का आंकड़ा लाखों में है और उनके कार्यक्रमों में चढ़ने वाला चढ़ावा भी करोड़ों में आता है। सूत्रों की मानें तो एक कार्यक्रम के लिए राधे माँ आज भी 50 लाख से 1 करोड़ रूपये हैं। पिछले दिनों एमपी के इंदौर में आने के लिये उन्होंने आयोजक से 25 लाख रूपये की रकम भी ली थी। अनुमान है कि आज राधे माँ के पास करोड़ों की कारें और करीब मुंबई में कई बेशकीमती संपत्ति भी है।

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*