राहुल से पीएम मोदी बोले- अभी तो आपके करियर की शुरुआत है, जानिये

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज से कर्नाटक में चुनाव प्रचार की शुरुआत की है. मंगलवार सुबह पीएम मोदी ने चामराजनगर में रैली को संबोधित किया. जिसके बाद वे अब उडुपी पहुंचे हैं. पीएम मोदी आज कुल 3 रैलियों को संबोधित करेंगे.

पीएम मोदी ने कहा कि ये परशुराम की सृष्टि है, ये प्रकृति हमें सहजीवन का संदेश देती है. इसी धरती के बेटे गुरुराज पुजारी ने दुनिया के अंदर हिंदुस्तान का माथा ऊंचा कर दिया है. ऑस्ट्रेलिया में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में कृष्ण की धरती पर पैदा हुए गुरुराज पुजारी ने वेटलिफ्टिंग में मेडल दिलाया. मुझे गुरुराज से मिलने का मौका मिला, उनके पराक्रम की कहानी सुनी.

जब देश में जनसंघ का झंडा कहीं नहीं लहराता था, 40 साल पहले जनसंघ के लोगों को नगरपालिका में चुनकर भेजा जाता था. तब देश की नगरपालिकाओं में उडुपी नगरपालिका नंबर 1 पर आती रहती थी. उडुपी, जनसंघ और भाजपा का नाता सफलता से जुड़ा है. मैं भाजपा और जनसंघ के उन कार्यकर्ताओं को नमन करता हूं. यह दक्षिण कर्नाटक में मंदिरों की धरती के तौर पर जाना जाता है. ये धरती भारत के लिए लैंड ऑफ बैंकिंग भी है. यहीं से देश को नई दिशा और ताकत मिली.

आजादी के बाद भी गरीबों के नाम पर बैंकों के राष्ट्रीयकरण किए, सत्ता हथियाने के लिए खेल खेले, लेकिन गरीब कभी बैंक के दरवाजे तक नहीं जा सका. हमें दिल्ली में आने का मौका मिला. उडुपी ने देश को बैंक दिया और हमने गरीबों को बैंकों से जोड़ा. 31 करोड़ से ज्यादा, 40 फीसदी आबादी बैंकिंग व्यवस्था से बाहर थी. हमने जनधन योजना के जरिए लोगों के बैंक खाते जीरो बैलेंस से खोले. लोगों ने 80 हजार करोड़ रुपये बैंकों में जमा कर दिए. इन्हें 40-50 साल पहले मौका मिला होता तो उनका भी विकास हो गया होता और देश की अर्थव्यवस्था का भी.

कांग्रेस ने खेला हिंसा का खेल

कर्नाटक में दो दर्जन से ज्यादा भाजपा के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया. हिंसा का खेल खेला गया. हिंसा की मानसिकता की कर्नाटक से और देश से विदाई होनी चाहिए. कर्नाटक का बहुत नाम था, लेकिन कांग्रेस ने इस नाम को बदनाम कर दिया. मैं बहुत छोटा था, तबसे कर्नाटक का नाम सुना करता था. भारत में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए योजना बन रही है और कर्नाटक में कांग्रेस ने ईज ऑफ डूइंग मर्डर कर दिया. ये मेरा खुला आरोप है.

देवगौड़ा को लेकर साधा राहुल पर निशाना

देवगौड़ा जब भी दिल्ली आए, मैं उनसे मिला. देवगौड़ा जब मेरे घर आते हैं तो मैं उनकी गाड़ी का दरवाजा खोलकर उनका स्वागत करता हूं. जब वे जाते हैं तो मैं उनको गाड़ी में बैठा कर आता हूं. वे हमारे राजनीतिक विरोधी हैं, लेकिन वे हमारे सम्मानीय नेताओं में से एक हैं. मैंने सुना कि कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल गांधी) चुनावी सभाओं में देवगौड़ा जी का कैसे उल्लेख कर रहे थे, ये आपका अहंकार है. अभी तो आपके करियर की शुरुआत हुई है. आप उन्हें अपमानित करते हैं. अभी आपकी जिंदगी की शुरुआत है, उनके आने वाले दिन कितने बुरे हो सकते हैं, आप सोच सकते हैं.

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*