पंचायत का तुगलकी फरमान, आरोपी की बहन से करो बलात्कार

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

इस्लामाबाद: पाकिस्तान में रेप के बदले रेप का फरमान सुनाने वाली पंचायत के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू हो गई है। इस मामले में पाकिस्तान की लाहौर पुलिस ने 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इन लोगों को कोर्ट में भी पेश कर दिया गया है और अदालत ने पुलिस को संबंधित मामले में पूछताछ करने के लिए एक हफ्ते का समय दिया है। कोर्ट ने ये भी साफ कर दिया है कि इस एक हफ्ते में आरोपियों को जमानत भी नहीं मिलेगी।

‘रेप के बदले रेप’ का सुनाया फरमान
आपको बता दें कि पाकिस्तान के पंजाब राज्य से एक बेहद ही हैरान कर देने वाला मामला सामने आया था। मुल्तान शहर के जिरगा गांव में काफी पुराने एक रेप केस में पंचायत की तरफ से ‘रेप के बदले रेप’ का फैसला सुनाया था। ये घटना लाहौर शहर से करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर हुई। पुलिस ने इस मामले में पंचायत के सदस्यों समेत गांव के 12 लोगों को गिरफ्तार किया है।

परिवार ने भी जताई थी फैसले पर सहमति
इस घटना के बाद दोनों परिवारों के लोग इस बात पर राजी हुए थे कि रेप के बदले रेप करके मामले को खत्म किया जायेगा। इस तरह के बदले को ‘वानी’ कहा जाता है जोकि ग्रामीण इलाकों में अभी भी चलता है। हालांकि कानूनन इस तरह के बदले पर प्रतिबंध है।

जानें पूरा मामला
आपको बता दें कि पंचायत ने 12 साल की बच्ची के बदले 16 साल की लड़की का रेप करने का आदेश दिया था। जिसने भी इस फैसले को सुना वो हैरान रह गया। पंचायत के इस फैसले की काफी आलोचना की जा रही है। पाकिस्तानी पुलिस के मुताबिक 20 मार्च को पीरमहल के गरीबाबाद इलाके में एक व्यक्ति ने एक लड़की से रेप किया, जिसके बाद पीड़ित परिवार ने संदिग्ध के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की बात की तो उसने अदालत के बाहर इस केस का निपटारा करने का फैसला किया। इसके बाद मामला पंचायत के पास पहुंचा, जहां पंचायत ने आरोपी की बहन के साथ ही रेप करने का फैसला सुना दिया।

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*