पद्मावती पर फिर सुलगने लगी विरोध की आग

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावती को लेकर सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के सुझाव को लेकर करणी सेना अभी भी गुस्से में है. करणी सेना ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि मोदी सरकार ने हमें आश्वासन दिया था लेकिन फिर भी किसके दबाव में फ़िल्म को हरी झंडी दे दी गई. करणी सेना फिल्म की शूटिंग की शुरुआत से ही इसके विरोध में अभियान चला रही है. करणी सेना ने कहा है कि पूरा देश जलेगा अगर पद्मावती रिलीज़ हुई, हम हिंसा नहीं चाहते हैं पर हमें मजबूर न किया जाए.

करणी सेना ने कहा कि बीजेपी की सत्ता वाली 4 राज्य सरकारों ने इसे बैन कर दिया था. प्रसून जोशी ने 28 दिसंबर को राजघराने और कुछ लोगों को फ़िल्म दिखाई और राजघराने ने इसका विरोध किया. करणी सेना ने कहा है कि हम इसका विरोध करेंगे. करनी सेना के जनरल सेक्रेट्री सुखदेव सिंह ने कहा कि सरकार इसे रिलीज़ क्यों कर रही है. इस पूरे मामले पर आरएसएस, विश्व हिंदू परिषद न जाने क्यों चुप हैं. भंसाली जेल में क्यों नहीं है… राजद्रोह का मुकद्दमा क्यों नहीं हो रहा है. बीजेपी ने हमारे साथ वादा ख़िलाफ़ी की है. पद्मावती पर हमारा आज से आंदोलन शुरू कर रहे हैं. हम 19 राज्यों में विरोध करेंगे.

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*