धक धक गर्ल…डांस ही माधुरी की ताकत

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

बॉलीवुड की डांसिंग क्वीन और धक धक गर्ल के नाम से पहचाने जाने वाली बेहतरीन अभिनेत्री माधुरी दीक्षित का आज बर्थडे है। 15 मई 1967 को मुंबई में जन्मीं माधुरी का जादू और करिश्मा आज भी बरकरार है। इन दिनों वो अपनी मराठी फ़िल्म ‘बकेट लिस्ट’ को लेकर चर्चा में हैं। इसके अलावा माधुरी अनिल कपूर के साथ ‘टोटल धमाल’ में भी नज़र आने-वाली हैं।

माधुरी के कैरियर, उनकी नाकामियां और फिर उनकी सक्सेस को देखें तो यह कहना गलत न होगा कि माधुरी दीक्षित बनना आसान नहीं है! क्या आप जानते हैं माधुरी के पिता शंकर दीक्षित और माता स्नेह लता दीक्षित अपनी लाड़ली बेटी को डॉक्टर बनाना चाहते थे। माधुरी को बचपन से ही डांस का शौक था। यही डांसिंग आज भी उनकी ताकत है!

माधुरी दीक्षित के फ़िल्मी कैरियर की बात करें तो इसकी शुरुआत साल 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फ़िल्म ‘अबोध’ से की थी। हालांकियह फ़िल्म कुछ कोई कमाल नहीं कर पायी और जिसके बाद माधुरी को अपने शुरुआती कैरियर में कई नाकामियां झेलनी पड़ी। इसके बाद फ़िल्म ‘दयावान’ में अपने से 21 साल बड़ी उम्र के एक्टर विनोद खन्ना के साथ दिए गए उनके किस सीन ने उस वक़्त तहलका मचा दिया था।

साल 1988 में आई फ़िल्म ‘तेज़ाब’ उनके कैरियर के लिए एक टर्निंग पॉइंट साबित हुई! इस फ़िल्म में उनकी बेहतरीन एक्टिंग के लिए उन्हें फ़िल्मफेयर अवार्ड के लिए नॉमिनेट भी किया गया था। इस फ़िल्म का गाना ‘एक दो तीन…’आज भी माधुरी दीक्षित के आइकॉनिक गीतों में से एक है। तेज़ाब के बाद माधुरी ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और उन्होंने बैक-टू बैक कई नेह्तारीन और हिट फ़िल्में दीं।

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*