खूबसूरती बढ़ाती है जोंक थैरेपी

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

खूबसूरती बढ़ाती है जोंक थैरेपी

ये है न्यूज़ ऑफ़ माय इंडिया !!

नई दिल्ली, इन दिनों जोंक थैरेपी का बहुत चलन चल पड़ा है, लोग अपने चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने के लिए जोंक का दर्द भी सह रहे हैं। महिलाएं जोंक से खून चुसवा कर सुंदरता में इजाफा करवा रही है, स्कीन संबंधी समस्याओं का निदान भी इसी थेरेपी से किया जाने लगा है। इस थेरेपी में खून चूसने वाला कीड़ा यानी जोंक स्किन पर चिपका दिया जाता है, जो चेहरे ये स्कीन की समस्याओं को हटा देता है और खूबसूरती में चार चाँद लग जाते हैं।

भारत में इन दिनों इस थैरेपी को महिलाएं भी अपनाने लगी हैं, इस थैरेपी का वैज्ञानिक फ्लू ये है कि जोंक खून चूसते समय एक एन्जाइम निकालती है, ये एन्जाइम एंटी ब्लड यानी ब्लड में थक्का नहीं जमने देता जिससे स्किन पर काले निशान नहीं पड़ते और ब्लड प्यूरीफाई हो जाता है। ये तरीका चेहरे की चमक बढ़ा देता है। ब्लड प्यूरीफाई होने से रिंकल्स भी जल्दी नहीं आते हैं, जोंक का इस्तेमाल सिर्फ त्वचा रोग या सुन्दरता बदने के लिए किया जाता हो बल्कि दाद, खुजली, फूड डायबिटिक फूड अल्सर, बॉडी पुराने घाव प्लास्टिक सर्जरी में हुई दिक्कत और वेरीकोज वेन जैसे लगभग तीस बीमारियों के इलाज के तौर पर भी किया जाने लगा है।

बात तो ये है कि इस थेरेपी को एक महीने में ज्यादा से ज्यादा तीन बार करवाना चाहिए, जिससे स्कीन की समस्या धीरे-धीरे दूर हो जाती है। हालंकि ये थैरेपी थोड़ी महंगी भी पड़ती है क्योंकि ट्रीटमेंट के लिए काफी मंहगी जोंक महाराष्ट्र नागपुर से मंगाईं जाती हैं।

खसखस खाने से मिलती है शक्ति और दूर होती हैं परेशानियाँ

कहा तुम्हारा BP चेक कर दू, फिर लड़की के साथ डॉक्टर ने कमरे में किया ऐसा

इस फिल्म एक्ट्रेस के साथ सिनेमा हॉल में हुई गंदी हरकत, बगल वाली सीट पर बैठा युवक सहलाने लगा पीठ

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*