IND vs SA : अफ्रीका के घर में विराट चुनौती

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

टीम इंडिया और साउथ अफ्रीका के बीच 6 मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला डरबन के किंग्समीड स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए साउथ अफ्रीका ने 7 ओवर में 0 विकेट गंवा कर 29 रन बना लिए हैं.

इससे पहले अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और टीम इंडिया को गेंदबाजी दी. अजिंक्य रहाणे की भारतीय वनडे टीम में वापसी हुई है, वह नंबर 4 पर बल्लेबाजी करेंगे.

भारतीय टीम इस मैच में दो स्पिनरों के साथ ही उतरी है. कलाई के दोनों स्पिनर चाइनामैन कुलदीप यादव और लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को टीम में जगह मिली है. भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह के रूप में दो मुख्य तेज गेंदबाज हैं, जबकि ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या तीसरे तेज गेंदबाज हैं.

वहीं अफ्रीकी टीम में चोटिल डिविलियर्स के स्थान पर एडेन मार्करम को टीम में जगह मिली है. क्रिस मॉरिस और अंदिले फेहुलकवायो के रूप में टीम में दो ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं, जबकि इमरान ताहिर के रूप में एक स्पिनर अफ्रीकी टीम में शामिल किया गया है.

 

अफ्रीका में भारत का रिकॉर्ड

1992 दौरे को मिलाकर भारतीय टीम साउथ अफ्रीका में कुल चार वनडे सीरीज खेल चुकी है और चारों में ही उन्हें अफ्रीकी टीम से शिकस्त मिली है. वहीं अब तक टीम इंडिया ने अफ्रीका के खिलाफ उनकी सरजमीं पर द्विपक्षीय वनडे सीरीज में कुल 20 मैच खेले हैं, जिसमें से सिर्फ 4 में ही उन्हें जीत मिली है. भारत ने दो बार यहां ट्राई सीरीज में भी हिस्सा लिया, जिसमें तीसरी टीम जिंबाब्वे और केन्या थी, लेकिन तब भी दक्षिण अफ्रीका ही चैंपियन बना था.

डरबन का रिकॉर्ड भारत को डराता है

पहला मैच डरबन में खेला जाएगा जहां भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 1992-93 से इस स्थान पर भारत ने जो सात मैच खेले हैं, उनमें से छह में उसे हार मिली, जबकि एक का परिणाम नहीं निकला. भारत ने हालांकि 2003 वर्ल्ड कप के दौरान यहां इंग्लैंड और केनिया को हराया था.

वनडे रैंकिंग में टीम इंडिया के पास टॉप करने का मौका

भारत की निगाह इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करके वनडे टीम रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल करना भी होगा. भारत अगर 4-2 से सीरीज जीत लेता है, तो वह दक्षिण अफ्रीका के स्थान पर शीर्ष पर पहुंच जाएगा. दोनों टीमों के बीच अभी केवल दो रेटिंग अंकों का अंतर है.

विराट कोहली की टीम ने पिछले सप्ताह वांडरर्स में अपना अजेय अभियान जारी रखकर टेस्ट मैचों में नंबर एक रैंकिंग भी बरकरार रखी. दक्षिण अफ्रीका ने भले ही टेस्ट सीरीज 2-1 से जीती, लेकिन जोहानिसबर्ग में तीसरा मैच उसने 63 रन से गंवाया जहां की पिच को आईसीसी मैच रेफरी ने खराब करार दिया.

2016 से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

भारत का फिलहाल वनडे रिकॉर्ड भी शानदार रहा है. उसने जनवरी 2016 में ऑस्ट्रेलिया से 1-4 से सीरीज गंवाने के बाद एक भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं गंवाई है. इस बीच उसने जिंबाब्वे, न्यूजीलैंड (दो बार), इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, श्रीलंका (दो बार) ओर ऑस्ट्रेलिया को हराया. इस दौरान भारत ने द्विपक्षीय सीरीज के 32 में से 24 मैच जीते. भारत इस बीच केवल इंग्लैंड में पिछले साल खेली गई चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पाकिस्तान से पराजित हुआ था.

भारतीय टीम अच्छी फॉर्म में है. कप्तान कोहली श्रीलंका के खिलाफ लिमिटेड ओवर्स की सीरीज में नहीं खेले थे. इसलिए मिडिल ऑर्डर में एक या दो स्थानों पर फैसला करना होगा. श्रेयस अय्यर ने इस बीच अच्छी फॉर्म दिखाई थी और इसलिए उनका पक्ष मजबूत है, लेकिन यहां अनुभव को भी तवज्जो दी जाएगी तथा दिनेश कार्तिक और मनीष पांडे भी एक स्थान की दौड़ में हैं.

प्लेइंग इलेवन :

भारत: विराट कोहली (भारत), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह.

दक्षिण अफ्रीका: फाफ डु प्लेसिस (कप्तान), हाशिम अमला, क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), जे पी ड्यूमिनी, इमरान ताहिर, एडेन मार्करम, डेविड मिलर, मोर्ने मोर्कल, क्रिस मॉरिस, अंदिले फेहुलकवायो, कैगिसो रबाडा.

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*