रुपाणी सरकार में उपजा विवाद, उपमुख्यमंत्री दे सकते इस्तीफा

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

अहमदाबाद: गुजरात में विजय रूपाणी सरकार में सब कुछ ठीक नहीं दिख रहा है. ख़बर है कि तीन अहम मंत्रालय नहीं मिलने से नाराज़ उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने अब तक अपना कार्यभार नहीं संभाला है. पिछली सरकार में उनके पास वित्त, शहरी विकास, उद्योग और राजस्व मंत्रालय था लेकिन इस बार वित्त मंत्रालय सौरभ पटेल को दे दिया गया है. नितिन पटेल गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में देर से पहुंचे थे. ख़बर के मुताबिक नाराज़ नितिन पटेल को मनाने खुद मुख्यमंत्री विजय रूपाणी गए थे जिसके बाद वो 5 बजे शुरू होने वाली बैठक में रात 9 बजे आए. सूत्रों के मुताबिक नितिन पटेल ने कहा है कि अगर उन्हें वित्त मंत्रालय नहीं दिया गया तो वो आत्मसम्मान को ठेस पहुंचने के नाम पर इस्तीफ़ा भी दे सकते हैं.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गुरुवार को शाम पांच बजे कैबिनेट की बैठक शुरू होनी थी सभी मंत्री वक्त से पहुंच गए थे लेकिन विजय रूपाणी और नितिन पटेल 9 बजे बैठक में पहुंचे. नितिन पटेल को मनाने के लिए विजय रूपाणी के घर पर बैठक हुई जिसमें सीएम, नितिन पटेल और जीतू वाघाणी मौजूद थे.

नितिन पटेल की जगह वित्त मंत्रालय सौरभ पटेल को दे दिया गया है. इसी से नितिन नाराज़ बताए जा रहे हैं. बता दें कि वित्त मंत्रालय पिछली आनंदीबेन पटेल और विजय रुपाणी की सरकार में नितिन पटेल के पास था. पीडब्लूडी स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, स्वास्थ्य शिक्षा, नर्मदा, कल्पसर और पाटनगर योजना मंत्रालय दिए गए हैं. आखिर में नितिन पटेल को मनाकर कैबिनेट बैठक में लाया गया.

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*