Good News : भारत में पहली बार सरकारी अस्पताल में हुआ सफलतापूर्वक लंग ट्रांसप्लांट

<script async custom-element=”amp-auto-ads”
src=”https://cdn.ampproject.org/v0/amp-auto-ads-0.1.js”>
</script>

देश में अभी तक किसी भी तरह का लंग ट्रांसप्लांट नहीं हुआ था। मगर देश के सरकारी चिकित्सालयो में पीजीआई पहला ऐसा चिकित्सालय माना जा रहा है जो कि सस्ते दाम पर लंग ट्रांसप्लांट कर सकता है। लंग ट्रांसफर का जो आॅपरेशन महिला के सीने के लिए किया गया उसमें सुक्खा सिंह नामक व्यक्ति का लंग्स ट्रांसप्लांट किया गया।

यह सुविधा मरीजों को मिलने जा रही है। दक्षिणी भारत के निजी चिकित्सालय में लंग ट्रांसप्लांट हेतु करीब 35 से 40 लाख रूपए मरीजों से वसूले जाते हैं। साधारण दर्जे के व्यक्ति के लिए यह सब बहुत महंगा होता है। मगर अब पीजीआई में पहला लंग ट्रांसप्लांट मुफ्त होता है। मिली जानकारी के अनुसार लंग ट्रांसप्लांट की सर्जरी के तहत जिन उपकरणों का उपयोग किया गया है

उनमें इम्यूनोसप्रैसर और एंटीबायोटिक दवाओं से जुड़ा हुआ है। इस मामले में दिगम्बर बेहरा ने कहा कि महिला पेशेंट हरजीत कौर द्वारा लंग ट्रांसप्लांट पर आने वाले खर्च या किसी भी तरह के प्रबंधन को उठाता है तो फिर अन्य सोर्सेस से इसे इकट्ठा किया जा सकता है। इस मामले में प्रो. जगत राम द्वारा कहा गया कि लंग ट्रांसप्लांट का खर्च उन्हें स्वयं ही उठाना होगा।

<script async src="//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js"></script> <script>      (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({           google_ad_client: "ca-pub-9844829140563964",           enable_page_level_ads: true      }); </script>

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*