संसद में भी गूंजा ‘पकौड़ा रोजगार’, शाह बोले- बनाना नहीं, मजाक उड़ाना शर्म की बात

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

नई दिल्ली : बीजेपी अध्यक्ष और राज्य सभा सांसद अमित शाह ने सोमवार (5 फरवरी) को संसद में अपना पहला भाषण दिया। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा पर करते हुए अमित शाह कांग्रेस सरकार पर जमकर बरसे। अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार को कांग्रेस का गड्ढ़ा भरने में वक्त लगा, उन्होंने कहा कि हमें ये गड्ढ़ा विरासत में मिला।

अमित शाह ने कहा कि गड्ढा भरने के बाद हमारी उपलब्धियों को आप अलग नजरिये से देखें। अमित शाह ने कहा, “देश में 55 साल तक एक ही पार्टी का राज रहा। बल्कि मैं कहूंगा कि एक ही परिवार का राज रहा। बावजूद इसके आज इतने दिनों तक राज करने वाले लोग समस्याएं गिना रहे हैं, हम इन चुनौतियों को स्वीकार करते हैं, लेकिन इसे ठीक करने में वक्त लगेगा।” अपने भाषण में अमित शाह पीएम के बहुचर्चित बयान ‘पकौड़ा रोजगार’ का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता चिदंबरम पकौड़ा बेचने वालों की तुलना भिखारियों से कर रहे थे, लेकिन वह बताना चाहेंगे कि पकौड़ा बेचना शर्म की बात नहीं है। अमित शाह ने कहा, “अभी मैं चिदंबरम साब का ट्वीट पढ़ रहा था कि मुद्रा बैंक के साथ किसी ने पकौड़े का ठेला लगा लिया, इसको रोजगार कहते हैं? हां मैं मानता हूं कि भीख मांगने से अच्छा है कि कोई मजदूरी कर रहा है, उसकी दूसरी पीढ़ी आगे आएगी तो उद्योगपति बनेगी।” अमित शाह ने कहा कि चाय वाले का बेटा आज प्रधानमंत्री बनकर इस सदन में बैठा है।

  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({
    google_ad_client: “ca-pub-9844829140563964”,
    enable_page_level_ads: true
  });

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*