जब दलाई लामा ने खींची बाबा रामदेव की दाढ़ी

<script async custom-element=”amp-auto-ads”
src=”https://cdn.ampproject.org/v0/amp-auto-ads-0.1.js”>
</script>

मुंबई। वल्र्ड पीस एंड हारमनी काॅन्क्लेव का आयोजन मुंबई में हुआ। इस समारोह में आध्यात्मिक जगत से और विभिन्न क्षेत्रों से लोकप्रिय हस्तियों ने भागीदारी की। इन सभी ने विश्वभर में शांति का संदेश दिया। आयोजन में तिब्बती धर्म गुरू दलाई लामा और योग गुरू बाबा रामदेव मौजूद थे। साथ ही मुस्लिम धर्म गुरू कल्बे सादिक और केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल मौजूद थे।

कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि मौलाना ने इस तरह का बयान देकर हमारा दिल जीत लिया। केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन द्वारा कहा गया कि भगवान राम न तो हिंदू थे और न ही मुस्लिम थे।

मिली जानकारी के अनुसार मुस्लिम धर्म गुरू कल्बे सादिक ने कहा कि बाबरी मस्दिज मामले में यदि हिंदुओं के पक्ष में निर्णय आता है तो फिर मुस्लिम समुदाय इसे प्रसन्नता से स्वीकार करेगा।उनका कहना था कि यदि निर्णय मुसलमानों के पक्ष में आता है तो फिर हिंदुओं को विवादित क्षेत्र देना चाहिए। इस मामले में

इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल भी पहुॅंचे उन्होंने कहा कि आतंकवाद और हिंसा को लेकर विश्व यह जान चुका है कि यह एक खतरा है। इस समारोह में बौद्धिक चिंतन के ही साथ हंसी ठिठौली भी चली जिसमें आध्यात्मिक गुरू बाबा रामदेव को तिब्बती धर्म गुरू दलाई लामा ने अपने पास बुलाया और उनकी दाढ़ी पकड़ ली। बाबा रामदेव ने मंच पर योगासनों का प्रदर्शन किया।

<script async src="//pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js"></script> <script>      (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({           google_ad_client: "ca-pub-9844829140563964",           enable_page_level_ads: true      }); </script>

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*